अल्मोड़ा से जुड़ी डिप्टी कलेक्टर जुड़वाँ बहनें

अल्मोड़ा से जुड़ी डिप्टी कलेक्टर जुड़वाँ बहनें

आप छह – सात वर्ष पूर्व – अल्मोड़ा के पोस्ट ऑफिस में किसी भी कारण गए होंगे, तो आपने पोस्ट ऑफिस में इन जुड़वाँ बहिनों में से एक को तो अवश्य देखा होगा। एकाग्रचित्त, अनुशासित, कर्तव्यनिष्ठ, मेधावी बहनें। प्रकर्ति से घिरे अल्मोड़ा से दोनों को विशेष प्रेम रहा है, अल्मोड़ा में उन्होंने लगभग छह वर्ष बिताये।

बरेली कॉलेज से स्नातक करते समय पोस्टल असिस्टेंट की परीक्षा उतीर्ण करने के बाद – चयन पत्र प्राप्त हुआ, और अपनी पढाई छोड़कर दोनों ने अल्मोड़ा डाकघर में कार्यभार ग्रहण करने के साथ ही – अल्मोड़ा सोबन सिंह जीना कैंपस से स्नातक में प्राइवेट स्टूडेंटस के रूप में प्रवेश लिया।

डाकघर में कार्य करते हुए बेहद व्यस्त रहने के बावजूद दोनों ने अनुशासित हो, कार्य और अध्ययन के बीच संतुलन बना न सिर्फ –  लोक सेवा आयोग परीक्षा की तैयारी की, साथ ही व्यक्तिगत (Private) विद्यार्थियों के रूप में स्नातक और स्नातकोत्तर की परीक्षा कुमाऊं यूनिवर्सिटी के सोबन सिंह जीना अल्मोड़ा कैंपस से उतीर्ण की, वह भी अपने विषयों में संस्थागत (Regular) परीक्षा में शीर्ष स्थान पाने वाले विधार्यियों से अधिक अंक लेकर।

राज्य लोक सेवा आयोग द्वारा आयोजित परीक्षा में, अपने प्रथम प्रयास में ही महिलाओं में शीर्ष दो स्थान प्राप्त कर – राज्य सरकार के अधिकारी बनने से पूर्व दोनों क्रमशः परिवहन कर अधिकारी और पोस्टल इंस्पेक्टर के रूप में कार्य कर रही थी।

दोनों बहिने सुश्री युक्ता मिश्र और सुश्री मुक्ता मिश्र वर्तमान में उत्तराखंड में दो स्थानों क्रमशः नरेन्द्र नगर एवं उधम सिंह नगर में उपजिलाधिकारी पद को सुशोभित कर रही हैं। अपने प्रशासनिक दायित्वों से आगे बढ़ दोनों समय – समय पर, विभिन्न सामाजिक गतिविधियों, सामाजिक उत्थान हेतु अपना योगदान देती रहतीं हैं।

एक और एक मिलकर ग्यारह होते हैं, को सार्थक करती उत्तराखंड मूल की बहनों की आरंभिक शिक्षा गोपेश्वर, सहारनपुर और बरेली से हुई। मिश्र बहने बाल्यकाल से ही समय का समुचित उपयोग करती, पढाई और खेल दोनों में सदैव विशिष्ट उपलब्धि प्राप्त करती रहीं हैं।

सफलता आसानी से नहीं मिलती है, राह में अवरोध भी आते हैं। दोनों बहनों का जीवन के प्रति ध्येय रहा है – कि उन्हें अपने लक्ष्य प्राप्ति हेतु चलना है, चलते रहना है, चाहे कितनी ही बाधाये आयें।

प्रतियोगिता दर्पण में कुछ वर्ष पूर्व प्रकाशित भेटवार्ता (देखें नीचे) के माध्यम से, उनके बारे में कुछ और जान सकते हैं।


Yukta Mishra Mukta Mishra 1
पेज 1/ 3

Yukta Mishra Mukta Mishra 1
पेज 2/ 3

Yukta Mishra Mukta Mishra 3
पेज 3/ 3

पोस्ट के अपडेट पाने के लिए अल्मोड़ा ऑनलाइन Whatsapp से जुड़ें


Click here

पोस्ट के अपडेट पाने के लिए अल्मोड़ा ऑनलाइन Facebook पेज से जुड़ें


Click here

लेखक की अन्य पोस्ट्स

Facebook Comments