An evening at bright end

ब्राइट एन्ड की एक शाम

बात कुछ वर्ष पुरानी है, अपने कॉलेज के दिनों में, एक शाम मित्र और मैं ब्राइट एंड कार्नर (विवेकानंद कार्नर) से वापस लौट रहे थे,

lakhudiyar

लखुउड़्यार शैलाश्रय अल्मोड़ा

हजारों वर्ष पूर्व, प्रागेतिहासिक युग के लोग कैसे रहते होंगे, तब – जब आदमी पेड़ो और गुफाओं मे रहता था, उसने पत्थरों से आग जलाना

lahiri mahashya

जब एक दिव्य संत के लिए रानीखेत में छावनी की स्थापना हुई।

अल्मोड़ा और उत्तराखंड के लोग देवभूमि में होने कारण अत्यंत सौभाग्यशाली हैं। अनेकों उच्च उपलब्धि प्राप्त संतों, महात्माओं ने इस भूमि को अपने चरण धूलि

Chatai from Almora

चितई गोलू देव के करें दर्शन

चितई गोलू देव के करें दर्शन उत्तराखंड के पहाड़ी क्षेत्र में एक खूबसूरत स्थान है अल्मोड़ा। विश्व प्रसिद्ध पर्यटक स्थल नैनीताल से लगभग 72 किलोमीटर

Bright end corner

अल्मोड़ा दो दशक पहले!

तब लोग मिलन चौक में लाला बाजार से थाना बाजार तक तो लगभग  रोज ही घूम आते। अब भी शायद जाते हों। यह हैं अल्मोड़ा

Nantin Maharaj

नानतिन बाबा (एक अवतार पुरुष)

देवभूमि उत्तराखंड ने, अध्यात्म की तलाश में इस क्षेत्र में आये विभिन्न विभूतियों को आकर्षित किया है। क्योंकि इस देवभूमि के कण-कण में देवताओं का

quarantine

A walk with yourself in quarantine

Winning sounds of birds, their endless efforts to measure the sky, the clear blue sky full of warmth all around ,warmth of sun,warmth of peace

love yourself

खुद से प्यार की राह में

क्या कभी आपने खुद को शीशे में देखते हुए सोचा कि आप से ज़्यादा प्यारा  ऊपरवाले ने कुछ बनाया नहीं ? एक बार मन में खुद

Almora

मेरे शहर अल्मोड़ा में

चलिए ले चलूं आपको अपने शहर अल्मोड़ा, नैनीताल से कुछ 60 किमी की दूरी पर, खुद में समेटे हुए जाने कितने वंशो की, राजाओं की

Facebook Comments